Special SMS [Islamic SMS]

मोहम्मद सा हसीँ कोई जमाने मे नही आया।
बहोत चेहरे हसीँ देखे मगर ऐसा नही पाया॥
मोहम्मद की बिलादत पे हुए अरजो शमाँ रौशन।
खुशीँ से नूरियो ने भी तराना शौक से गाया॥
बहोत चेहरे हसीँ देखे.....!!
मोहम्मद मुश्तफा आये इमामुल अम्बियां आये।
जिन्हेँ खत्मे नबूवत का खुदा ने ताज पहनाया॥
बहोत चेहरे हसीँ देखे मगर ऐसा नही पाया।
मुबारक आमिना तुझको तेरा रौशन हुआ घर हैँ॥
तेरी झोली मुबारक मे नबियो का नबी आया।॥
मोहम्मद सा हसीँ कोई जमाने मे नही आया॥॥

I Like SMS - Like: 162 - SMS Length: 1116 - Share
Added 2 years ago

कोई इबादत की चाह में रोया
कोई इबादत की राह में रोया.....!!!!
•••••
अजीब है ये "नमाज़ - रोज़ा-ए-मोहब्बत"का सिलसिला
•••••
कोई "क़ज़ा" करके रोया,

I Like SMS - Like: 184 - SMS Length: 337 - Share
Added 2 years ago

अल्‍लाह "टूटी" हुई चीज़ों का इस्तेमाल कितनी ख़ूबसूरती से करता है ..,,
जैसे ....बादल टूटने पर पानी की फुहार आती है......
मिट्टी टूटने पर खेत का रुप लेती है....
पौधा टूटने पर बीज अंकुरित हो जाता है .....
और बीज टूटने पर एक नये पौधे की संरचना होती है ....
इसीलिये जब आप ख़ुद को टूटा हुआ महसूस करे तो समझ
लिजिये अल्‍लाह आपका इस्तेमाल किसी बड़ी उपयोगिता के
लिये करना चाहता है । इसलिए सब्र किजीए और नमाज पढते रहीये.!

बेशक अल्लाह बड़ा रहमान है.

I Like SMS - Like: 166 - SMS Length: 1091 - Share
Added 2 years ago

1 Sahabi ny Huzur Sallallaho alehe wasallam se pocha
Hamy kesy pata chalega k hmari Nmaz Qabol ho gai?
Huzoor ny frmaya
Jb Tmhara Agli Namaz Prhne Ka Dil kary..

I Like SMS - Like: 364 - SMS Length: 163 - Share
Added 4 years ago

allah malik he,wo na chahe to kuch nhi
ho sakta,agar wo chahe to koi nhi rok sakta....

I Like SMS - Like: 348 - SMS Length: 91 - Share
Added 4 years ago
1 2 3 4 5 Next
Page(1/41)
Jump to Page